IPO Kya Hai

IPO (Initial Public Offering) क्या होता है? IPO मे Apply कैसे करें? IPO से जुड़ी जानकारी हिंदी में

आईपीओ (Initial Public Offering) क्या है?, IPO में अप्लाई कैसे करे?, क्या आप भी आईपीओ के बारे में जानकारी जानना चाहते हैं?

तो आज आप सही जगह पर आए है। आज के इस आर्टिकल में जानेंगे की, आईपीओ क्या है पूरी जानकारी हिंदी में, आईपीओ में ऑनलाइन अप्लाई कैसे करे? और आईपीओ से जुड़े कुछ आपके सवाल के जवाब मिलेंगे।

पिछले कुछ समय से भारत में शेयर बाजार में निवेश करने वालो की संख्या काफी ज्यादा बढ़ी है। इस साल भी शेयर मार्केट से लोगो ने अच्छा मुनाफा कमाया है। शेयर बाजार से पैसे कमाने का एक तरीका है की आप अपने पैसे को आईपीओ में इन्वेस्ट कीजिए। पिछले कुछ समय में बहुत सी कम्पनी ने अपना आईपीओ भी लॉन्च किया है।

तो क्या है IPO? क्या हमे आईपीओ में इन्वेस्ट करना चाहिए? आईपीओ में ऑनलाइन अप्लाई कैसे करे?

आईपीओ क्या है? – What is IPO (Initial Public Offering) Information in Hindi?

IPO Kya Hai
IPO Kya Hai

जब भी कोई नई कंपनी या पुरानी कम्पनी शेयर मार्केट में पहली बार अपने शेयर पब्लिक को ऑफर करती है तो इसे आईपीओ यानी की इनिशियल पब्लिक ऑफरिंग (Initial Public Offering) कहा जाता है। जब भी किसी कम्पनी को फंड की जरूरत होती है तो ऐसे में ज्यादातर कम्पनी इसी तरीका उपयोग करके पैसे जुटाती है।

इसको आसान से शब्दो बताए तो, जब भी किसी बड़ी या छोटी कंपनी को ग्रो करने के लिए या किसी और काम के लिए फंड की जरूरत होती है, तब कम्पनी पैसे जुटाने के लिए आईपीओ लॉन्च करती हैं।

जब लोग आईपीओ को खरीदेगे तो उन्हें इस कम्पनी में हिस्सेदारी मिल जाएगी और कम्पनी को ग्रो करने के लिए फंड भी मिल जाएगा। अब इस पैसे का इस्तेमाल कम्पनी अपने को ग्रो करने में इस्तेमाल कर सकता ही।

तो इसी प्रकार से जब कम्पनी को फंड की जरूरत होती है तो वह अपना आईपीओ लॉन्च करती है और आईपीओ की मदद से अपना फंड जुटाती है।

IPO लाने का कारण क्या है?

कोई कम्पनी अपना आईपीओ क्यों लॉन्च करती है? यह सवाल के बारे में जानना भी जरूरी है। तो कोई भी कम्पनी अपना आईपीओ तभी लॉन्च करती है जब उन्हें पैसे की जरूरत होती है। अपने कंपनी को आगे बढ़ाने के लिए या किसी और कारण की वजह से जब उन्हें फंड की जरूरत होती है तब वे मार्केट से फंड उधार लेने के बजाय या कर्ज लेने के बजाय वे आईपीओ से फंड जुटना बेहतर समझते है। आज ज्यादातर कम्पनी इसी योजना पर काम करती है। तो अब आप जान चुके होगे की कोई कंपनी अपना आईपीओ क्यों लॉन्च करती है? IPO लाने का कारण क्या है?

आईपीओ में ऑनलाइन अप्लाई कैसे करें? – How to Apply for IPO Online?

आईपीओ के मदद से फंड इकठ्ठा करने के पीछे कम्पनी के कुछ objectives यानी की Goal होते है। जब उन्हें आईपीओ के जरिए फंड मिल जाए तो वे अपने objectives पर काम करना शुरू कर देते है। आज के समय में बहुत सारे कम्पनी के आईपीओ आ रहे है और पिछले कुछ समय से भारत में बहुत से आईपीओ में इन्वेस्ट करने की संख्या में बढ़ौतरी हुई है। तो आइए जानते है की आईपीओ के लिए अप्लाई कैसे करे?

आईपीओ में अप्लाई करने से पहले जरूरी चीज

यदि आप आईपीओ में इन्वेस्ट करना सोच रहे है तो आपके पास ये जरूरी चीज होना जरूरी है जैसे की…

  • डीमेट अकाउंट
  • ट्रेडिंग अकाउंट
  • आपके बैंक अकाउंट से लिंक्ड मोबाइल नंबर
  • यूपीआइ आईडी (UPI ID)

आईपीओ में अप्लाई करने की प्रोसेस

यदि उपर बताई गई चीजे आपके पास मौजूद है तो आप आईपीओ में अप्लाई कर सकते है। आईपीओ में अप्लाई करने के लिए आप नीचे दी गई प्रोसेस फॉलो कीजिए…

  • सबसे पहले आप अपने ब्रोकर के मोबाइल ऐप या ट्रेडिंग ऐप में लॉगिन आकर लीजिए।
  • ऐप में लॉगिन करने के बाद आईपीओ के सेक्शन में चले जाए।
  • अब आप जिस आईपीओ के लिए अप्लाई करने के लिए आईपीओ को चुने।
  • आईपीओ चुनने के बाद शेयर की संख्या और bid price add कीजिए।
  • आखिर में UPI ID भी जरूर add कीजिए

उपर बताए गए स्टेप को फॉलो करके आप आईपीओ में अप्लाई कर सकते है। लेकिन जब आप आईपीओ के अप्लाई करते है तो उस समय आपका पैसा ब्लॉक कर दिया जाता है और जब एप्लीकेशन रिजेक्ट होती है तो आपका पैसा अनब्लॉक किया जाता है।

यदि आपने जिस आईपीओ के लिए अप्लाई किया है और वो सेलेक्ट हो जाता है तो आपके पैसे के बदले में आपके अकाउंट में शेयर मिल जाते है।

आईपीओ के लिए कौन अप्लाई कर सकता है? – Who Can Apply For IPO?

स्टॉक मार्केट में जो नए लोग एंट्री लेते है तो उन्हे कभी ना कभी यह सवाल जरूर आता है की आईपीओ के लिए कौन अप्लाई कर सकता है? यह सवाल आना भी जरूरी है।

तो आईपीओ में कोई भी इंसान अप्लाई कर सकता है। कोई भी व्यक्ति आईपीओ में इन्वेस्टमेंट कर सकता है। आईपीओ में इन्वेस्टमेंट करने के लिए आपके पास इन्वेस्टमेंट के लिए डीमेट अकाउंट, शेयर खरीदने और बेचने के लिए ट्रेडिंग अकाउंट होना जरूरी है। इन दोनो के अलावा आपके बैंक अकाउंट से लिंक्ड मोबाइल नंबर और यूपीआइ आईडी (UPI ID) होना जरूरी है।

जब भी आप आईपीओ में अप्लाई करते है और इन्वेस्टमेंट करना चाहते हैं तो आप ज्यादा से ज्यादा 2 लाख रुपए तक का इन्वेस्टमेंट कर सकते हैं। तो आपके पास उपर बताई गई चीज डीमेट अकाउंट और ट्रेडिंग अकाउंट है तो आप आसानी से आईपीओ में इन्वेस्टमेंट कर सकते हैं।

आईपीओ का अलॉटमेंट कैसे होता है? – IPO Allotment Process

जब भी कोई कम्पनी का आईपीओ ओपनिंग क्लोज हो जाता है तो उसके बाद कम्पनी आईपीओ अलॉटमेंट करती हैं। इस प्रोसेस के दौरान कम्पनी अपने सभी इन्वेस्टर को आईपीओ अलॉट करती है और जिन भी इन्वेस्टर को आईपीओ अलॉट होते है उनके बाद शेयर स्टॉक एक्सचेंज में लिस्ट हो जाते है। जब शेयर स्टॉक मार्केट में लिस्ट हो जाए इसके बाद ही मार्केट में शेयर को खरीदे और बेचे जाते है । इसके अलावा आप इन्हे बेच नही सकते है।

आज आपने क्या सीखा: IPO के बारे में जानकारी हिंदी में

आज के इस आर्टिकल में आपने जाना IPO के बारे में जानकारी हिंदी में (What Is IPO Details In Hindi) जिसमे आपने जाना की IPO क्या है?, आईपीओ के लिए अप्लाई कैसे करे? और आईपीओ से जुड़ी जानकारी जानी।

मुझे उम्मीद है की इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद IPO Details In Hindi से जुड़े सारे सवालों के जवाब मिल चुके होगे। फिर भी आपको आईपीओ से उड़ी कोई जानकारी शामिल करवाना चाहते हैं तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

IPO क्या है? आर्टिकल अच्छा लगा हो तो आप अपने दोस्तो के साथ जरूर शेयर करे।

Get Free Email Updates!

Signup now and receive an email once I publish new content.

I agree to have my personal information transfered to MailChimp ( more information )

I will never give away, trade or sell your email address. You can unsubscribe at any time.

क्या आप अपने ब्लॉग के लिए क्वालिटी HINDI CONTENT WRITER FIND कर रहे है?

अगर आप हमसे High quality, Impressive और SEO friendly आर्टिकल लिखवाना चाहते हो तो आप हमसे संपर्क कर सकते हो. ज्यादा जानकारी के लिए नीचे दिए गए whatsapp नंबर पे संपर्क करें.

हमारा whatsapp नंबर है : 7984614632

Checkout Our Services: Click Here

Share Your Thought